दो गौरैया

दो गौरैया

दो गौरैय्या’ कहानी के पात्र हैं दंपत्ति और उनका एक बेटा। एक दिन उनके घर में दो गौरैय्या घुस आती हैं। कार्यक्रम में हास्य का क्रम तब शुरू होता है जब परिवार के सदस्य उस गौरैय्या के जोड़े को घर से बाहर करने में जुट जाते हैं।

License: CC-BY-SA 4.0 unported
Source: CIET, NCERT